बरेली: पुलिस स्टेशन में उस वक्त हड़कंप मच गया, जब एक सास अपनी बहू का भ्रूण लेकर थाने पहुंची। दरअसल एक गर्भवती महिला के साथ दरिंदों ने हैवानियत की हदें पार करते हुए 3 महीने की गर्भवती महिला के साथ बलात्कार किया। जिसकी वजह से उसका गर्भपात हो गया। बच्चे की मौत से महिला सदमे में आ गई। न्याय की गुहार लगाने के लिए पीड़िता की सास अपने हाथ में बहू का भ्रूण लेकर एसएसपी दफ्तर पहुंच गई।

ये भी पढ़ें: शख्स ने प्राइवेट पार्ट में डाल लिया Deodorant की बोतल, सर्जरी कर डॉक्टरों ने निकाला बाहर

जानकारी के मुताबिक बिशारतगंज थाना क्षेत्र के मझगवां गांव में एक गर्भवती महिला से आरोपियों ने गैंगरेप किया। इस वजह से गर्भ पल रहे बच्चे की मौत हो गई। रेप पीड़िता की सास हाथ में भ्रूण लेकर न्याय की गुहार लगाने एसएसपी दफ्तर पहुंची तो वहां हड़कंप मच गया। पीड़िता की सास आरोपियों को सजा दिलाने के लिए प्लास्टिक के जार में भ्रूण को लेकर एसएसपी ऑफिस पहुंची जिसे देखकर हर कोई हैरान रह गया।

ये भी पढ़ें: जेल में पत्नियों के साथ एक कमरे में समय बिता सकेंगे कैदी, इन बातों का रखना होगा ध्यान

यह घटना उस वक्त हुई जब महिला किसी काम से खेत में गई थी। इस दौरान गांव के ही दबंगों ने महिला के साथ दुष्कर्म किया। आरोपी रेप के बाद महिला को वहीं छोड़कर भाग गए। काफी देर तक जब पीड़ित महिला घर नहीं पहुंची तो परिजन खेत में देखने पहुंचे जहां वो गंभीर हालत में मिली। परिजन महिला को निजी अस्पताल में ले गए जहां बच्चे की जान बचाने के लिए डॉक्टरों ने हर संभव कोशिश की लेकिन नवजात को नहीं बचाया जा सका। डॉक्टरों ने परिजनों को बताया कि दुष्कर्म के दौरान बच्चा महिला के गर्भ में ही मर गया।

ये भी पढ़ें: 44 साल की चाची को 14 साल के भतीजे से हुआ प्यार, पति ने दोनों को आपत्तिजनक हालत में पकड़ा और...

गैंगरेप पीड़िता की सास ने कहा कि मैं कई दिनों से शिकायत कर रही हूं। मेरी बहू के साथ तीन लोगों ने गैंगरेप किया था। 3 महीने का बच्चा पेट में था, मुंह बंद कर बहू के साथ दुष्कर्म किया गया जिससे वह बेहोश हो गई। महिला ने कहा इस प्लास्टिक के बैग में बच्चे का शव है।

ये भी पढ़ें: होटल में दूसरी महिला संग रंगरेलियां मना रहा था पति, अचानक पहुंची पत्नी, और फिर...

वहीं शिकायत पर पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज कर तीन आरोपियों को मंगलवार शाम गिरफ्तार कर लिया। ग्रामीण पुलिस अधीक्षक राजकुमार अग्रवाल ने कहा कि मामले की जांच की जा रही है और सामने आए तथ्यों के अनुसार आगे की कार्रवाई की जाएगी।