नई दिल्ली: दिल्ली मेट्रो के कोच में लेडीज सीट के ऊपर कंडोम का विज्ञापन है, जिसे लेकर सोशल मीडिया पर बहस शुरू हो गई है। इतना ही नहीं इस विज्ञापन पर जमकर बवाल मचा हुआ है। लोग इस विज्ञापन को लेकर बहस कर रहे हैं। लोगों का कहना है कि इस विज्ञापन के कारण महिलाओं को असहज होना पड़ता है।

इस फोटो के वायरल होने कारण यह है कि इसे मेट्रो में महिलाओं के लिए आरक्षित सीट के ठीक ऊपर लगाया गया है। इस विज्ञापन में एक कपल को बेहद ही रोमांटिक अंदाज में दिखाया गया है। ऐसे में इस फोटो को लेकर सोशल मीडिया पर बहस होने लगी। लोग इस विज्ञापन को लेकर दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन की जमकर आलोचन कर रहे है, तो वहीं कुछ लोग इसे सही बता रहे हैं।

सोशल मीडिया पर लोग अलग-अलग प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं। इसे लेकर एक सोशल मीडिया यूजर ने लिखा, ‘इसमें शर्म की क्या बात है… पहले जब इस तरह के विज्ञापन सरकारी रेडियो और दूरदर्शन पर भी होते थे। आजकल घर के ड्राइंग रूम में लगे टीवी पर 15-20 सेकेंड के ऐसे भड़काऊ विज्ञापन चलाए जाते हैं, तो आपको क्या शर्मिंदगी महसूस हुई?

वहीं एक यूजर ने लिखा - यह शर्मनाक क्यों है? यह सामाजिक जागरूकता है। आपको न्यूड फोटोग्राफी और पोर्नोग्राफी से ऐतराज नहीं है, तो कंडोम जनता के लिए कितना शर्मनाक है? मैं इसका समर्थन करता हूं।’ जबकि डीएमआरसी पर सवाल उठाते हुए एक यूजर ने लिखा है कि रेवेन्यू का मतलब सिर्फ इतना ही नहीं होना चाहिए।