इंदौर के महू में रविवार रात को एक युवक ने भीड़ के बीच बम फोड़ दिया, इस घटना में दो लोगों की मौत हो गई। वहीं 15 से ज्यादा लोग घायल हो गए। जानकारी के मुताबिक घायलों में से 4 लोगों को इंदौर रेफर किया गया है। बम आर्मी रेंज से लाया जाना बताया जा रहा है। बताया जा रहा है कि यह घटना उस समय हुई जब, बडगोंड थाना क्षेत्र में झंडा वंदन के आयोजन की तैयारी की जा रही थी।

यह पूरी घटना बेरछा ग्राम की है, जहां झंडा वंदन के आयोजन की तैयारी के दौरान दो गुट आपस में बैठकर शराब पी रहे थे। तभी अचानक किसी बात को लेकर उनमें आपसी विवाद हो गया। इसके बाद एक युवक आर्मी की फायरिंग रेंज में छोड़ने वाले बम को उठा कर लाया और भीड़ में फेंक दिया, जिसकी वजह से दो लोगों की मृत्यु मौके पर हो गई। वहीं 7 महिला और दो बच्चों सहित 15 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं।

इस मामले पर इंदौर के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शशिकांत कनकने ने बताया कि कुछ लोगों ने विस्फोटक सामग्री का इस्तेमाल किया है, जिसमें दो की मौत हो गई है और कई घायल हैं। फिलहाल घायलों को हॉस्पिटल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है। वहीं बम कहां से लाया गया था, क्या विवाद है? जिसकी जांच की जा रही है। गौरतलब है कि इंदौर से सटे महू के बेरछा में आर्मी की प्रैक्टिस रेंज है, यहां आर्मी के जवान बम फोड़ने की प्रैक्टिस करते हैं। कई बार बम फूटते नहीं हैं। इन्हें वे जंगल में छोड़ कर चले जाते हैं। तांबे के लालच में गांव वाले इन्हें जंगल में से उठा कर ले आते हैं।